ब्रेकिंग न्यूज़

“लाडली दिवस” पर पोषित हुईं बेटियां,11 से 14 वर्ष की किशोरियों को बताए गए, स्वस्थ रहने के टिप्स ,,,,,,,
सामुदायिक गतिविधियों के द्वारा व्यवहार परिवर्तन पर दिया गया ज़ोर,,,,,,

अब्दुल अज़ीज़
बहराइच :(NNI 24):- किशोरियों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए जनपद मे आंगनवाड़ी केन्द्रों पर लाडली दिवस का आयोजन हुआ | जिसमें आई हुई किशोरियों को बेहतर स्वास्थ्य एवं सही पोषण के साथ-साथ व्यक्तिगत साफ-सफाई एवं स्वच्छता सम्बन्धी जानकारियां दी गई | इस दौरान किशोरियों को पोषक आहार वितरित किया गया एवं आयरन की गोली खिलाई गयी | जीडी यादव जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया इस दिवस के आयोजन का उद्देश्य किशोरियों के स्वास्थ्य एवं पोषण स्तर में सुधार लाना है, जिससे कि एक स्वस्थ किशोरी आगे चलकर एक स्वस्थ मातृत्व की भूमिका निभा सके |
ब्लाक शिवपुर के खैरा कला आंगनवाड़ी केंद्र में लाडली दिवस का आयोजन हुआ | यहाँ पर आयीं वीरांगना दल की, स्कूल न जाने वाली किशोरियों को आंगनवाड़ी विद्यावती ने पोषाहार दिया और आयरन की नीली गोली खिलाई | इस दौरान किशोरियों का वजन किया गया और उन्हें पोषण संबंधी व्यवहारों पर सलाह दी गयी | इसके साथ ही उन्हे खान-पान की आदतों, पोषण तत्वों की आवश्यकता, उनके प्राप्ति स्रोत एवं संतुलित आहार के बारे में चर्चा कर उसके महत्व के बारे में विस्तृत जानकारी दी गयी |
इस अवसर पर किशोरियों को माहवारी स्वच्छता तथा एनीमिया के बारे जानकारी देते हुये आंगनवाड़ी विद्यावती ने बताया सप्ताह में एक आयरन की नीली गोली खानी है ताकि खून की कमी न हो। इसके साथ ही वे अपने स्वास्थ्य का भी ध्यान रखें। इसके लिए आवश्यक है कि वह नियमित रूप से प्रोटीनयुक्त पदार्थ जैसे विभिन्न प्रकार की दालें, हरी सब्जियां, मौसमी फल तथा स्थानीय खाद्य पदार्थों का सेवन करें तथा उन्हें जो पोषाहार आंगनवाड़ी केन्द्रों पर मिलता है उसका नियमित रूप से सेवन करें जिससे उन्हें पर्याप्त पोषण मिल सके । उन्होने किशोरियों को महावारी के दौरान साफ़ सफाई का विशेष ध्यान रखने की सलाह दी जिससे वह कई प्रकार की समस्याओं और होने वाले संक्रमण से बच सकती है। किशोरियों को कपडे की जगह सेनेटरी नैपकिन के उपयोग के बारे में बताया ।
लाडली दिवस आयोजन मे उत्तर प्रदेश तकनीकी सहयोग इकाई से पोषण सखी अर्चना ने कार्यक्रम मे सहयोग करते हुये कहा जब बालिका 6 वर्ष की हो जाये, तब उसका प्राथमिक विद्यालय में प्रवेश दिलाना चाहिए | बालिकाओं को उनके शरीर में होने वाले परिवर्तनों के संबंध में जानकारी देते हुये उन्हें व्यक्तिगत स्वच्छता, साफ-सफाई भोजन के पहले व बाद में, शौच के पहले व शौच के बाद साबुन से हाथ धोने के संबंध में बताया गया |

Advertisement

Related posts

हम सबने ठाना है, शत-प्रतिशत टीकाकरण कराना है स्लोगन को सच साबित करने में लगे जनपद में सभी स्वास्थ्य अधिकारी और कर्मचारी,,,,,,,,

*चलो बैठो सिपाही हूं 15000 और मंगाओ जो बाकी है वरना जाओगे स्मैक के कारोबार में जेल******

केन्द्रीय मन्त्री मुख्तार अब्बास ने दरगाह शरीफ प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष को किया सम्मानित,,,,,,

Abdul Aziz Editor Nation News India 24

एक टिप्पणी छोड़ दो