ब्रेकिंग न्यूज़

तीन दिवसीय संगोष्ठी का किया आयोजन,,,,,,,,,

कानपुर :(NNI 24) छत्रपति साहू जी महाराज विश्वविद्यालय में हो रहे तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी के तीसरे दिन दयानंद गर्ल्स पीजी महाविद्यालय की हेड ऑफ द डिपार्टमेंट ऑफ इकोनॉमिक्स की डॉ मुकुलिका हितकारी मुख्य वक्ता के रूप में आई। आपने अपने वक्तव्य में सभी को जीवन प्रबंधन के बारे में जानकारी दी और बताया कि जीवन प्रबंधन से ही सफलता की प्राप्ति होती है। इस को हमें मूलमंत्र बना लेना चाहिये। और यदि हम जीवन प्रबंधन और सकारात्मक सोच को विकसित नहीं करेंगे तो हमेशा कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा।कभी कभी कड़ी मेहनत के बावजूद भी किसी लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर पाते हैं। इसका मुख्य कारण जेवन प्रबंधन ठीक प्रकार से न होना होता है। इसके लिए सात सूत्र हमेशा अपनाने चाहिए सत्य बोले, सहज रहें ,अहंकार त्यागे, निंदा नहीं करें ,पूजन करें, योग करें एवम् सतत सभी के संपर्क में रहें ।व्यवहार एवं स्वभाव से ही हमारा जीवन चलता है। अपना जीवन केवल भौतिक सुविधाओं तक ही सीमित नहीं है। ज्यादा सुविधा क्षमता को प्रभावित करती है। गीता क्षमता और सुविधा में संतुलन प्रस्तुत करती हैं। हमे समय प्रबंधन और सकारात्मक सोच से अपने आपको विकसित करना चाहिए ।इसके लिए हमें कॉलेज स्तर पर बच्चों को जीवन प्रबंधन के लिए विशेष रूप से शिक्षा देनी चाहिए । समाज मे जागरूकता के लिए कार्यक्रम करने चाहिए।जीवन प्रबंधन हमारे भविष्य को निर्धारित करता है ।

Advertisement

Related posts

*रुपईडीहा में देहात संस्था द्वारा बच्चों को डॉक्यूमेंट्री स्क्रीनिंग दिखा कर स्वच्छता अभियान के तहत किया जागरूक*

एक टिप्पणी छोड़ दो