ब्रेकिंग न्यूज़

बेगुनाहों की रिहाई के लिए पुलिस महानिदेशक से गुहार लगाई।*

*बेगुनाहों की रिहाई के लिए पुलिस महानिदेशक से गुहार लगाई।*
=================================
कानपुर :(NNI 24) मोहम्मदी यूथ ग्रुप के अध्यक्ष इखलाक अहमद डेविड की अध्यक्षता में एक मीटिंग बेगमपुरवा में हुई जिसमें कानपुर में सीएए/एनआरसी के विरोध प्रदर्शन में बेगुनाहों पर फर्ज़ी मुकदमें कायम कर जेल भेजने की निष्पक्ष जाँच कराने व न्याय दिलाने की मांग पुलिस महानिदेशक, उ०प्र० से की मीटिंग के बाद पुलिस महानिदेशक को स्पीड पोस्ट ईमेल द्वारा पत्र भी भेजा।
वक्ताओं ने कहा प्रदेश की आर्थिक राजधानी गंगा जमुनी तहज़ीब गणेश शंकर विद्यार्थी मौलाना हसरत मोहानी की नगरी कानपुर में दिसम्बर, 2019 में सीएए/एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुए थे। मार्च, 2020 से हिंदुस्तान में कोविड-19 से लड़ रहा है कोविड-19 में कानपुर जिला प्रशासन का पूरा सहयोग कानपुर कानपुर आवाम दे रही है उसी बीच कानपुर में सीएए/एनआरसी के विरोध प्रदर्शन में बेगुनाहों पर फर्ज़ी मुकदमें कायम कर जेल भेजा जा रहा है जिससे कानपुर में सामाजिक/धार्मिक राजनैतिक दलों में नारज़गी है आवाम में भी बेगुनाहों को फर्ज़ी मुकदमें में फंसाने को लेकर गुस्सा है।
इखलाक अहमद डेविड ने कहा कि कानपुर में दिसम्बर 2019 में सीएए/एनआरसी की घटना में अमन के दुश्मनों व क्षेत्रीय पुलिस की भूमिका भी संदिग्ध रही हिंसा में कुछ लोगो को जान भी गवानी पड़ी थी। तत्कालीन जिलाधिकारी/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की सूझबूझ ने हिंसा की आग को कानपुर में फैलने से रोकने में अहम भूमिका अदा की जो सराहनीय रही थी उस वक्त कानपुर शहर काज़ियो, विधायकों सामाजिक/धार्मिक संगठनों के पदाधिकारियों से जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने वादा किया था कि इस प्रकरण में दोषी बख्शे नही जाएगे और बेगुनाहों को बेवज़ह परेशान नही किया जाऐगा। लेकिन बाबूपुरवा पुलिस ने 13/09/2020 को पूर्व पार्षद इज़हारुल अंसारी व और भी बेगुनाह पर संगीन धाराओं में मुकदमा लगाकर जेल भेज दिया जिससे कानपुर की आवाम में पुलिस की कार्यवाही के खिलाफ नाराज़गी है। सभी वक्ताओं ने एक स्वर में बेगुनाहों पर फर्ज़ी मुकदमें कायम कर जेल भेजने की निष्पक्ष जाँच कराने व न्याय दिलाने की मांग पुलिस महानिदेशक, उ०प्र० से की व उसी सम्बंधित पत्र भी पीलिस महानिदेशक, उ० प्र० को स्पीड पोस्ट ईमेल व ट्विटर द्वारा सेंड किया।
मीटिंग में इखलाक अहमद डेविड, कुतुबुद्दीन खान, वसीम रज़ा, एजाज़ रशीद शाह मोहम्मद, अकीब अंसारी, शकील अब्बा, आज़म महमूद, शेरज़मा अंसारी, ज़फर समी आदि लोग मौजूद थे।

Advertisement

Related posts

शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले‘, वतन पे मर मिटने वालों का बाकी यही निशां होगा’’

भगवान् बचाए ऐसे राम राज्य से….उन्नाव रेप पीड़िता को जिन्दा जलाने वालों को 15 दिनों में फांसी की मांग,,,,,,,,,,

सपा विधायक ने राज्यपाल को सम्बोधित दिया ज्ञापन, पुलिस से हुई तीखी नोकझोंक,,,,,,,,,

एक टिप्पणी छोड़ दो