ब्रेकिंग न्यूज़

देवता हमारे ऊपर अनुग्रह करते है और हमें प्राणी मात्र पर कृपा करनी चाहिए-गुरूशरणानन्द महाराज

देवता हमारे ऊपर अनुग्रह करते है और हमें प्राणी मात्र पर कृपा करनी चाहिए-गुरूशरणानन्द महाराज
सन्तों ने किया 100 करोड़ की लागत से बनने वाले चिकित्सालय का भूमि पूजन
गणमान्य जनों ने हास्पीटल के लिए अपने-अपने सहयोग की घोषणा की

सुनील शर्मा

Advertisement

मथुरा : (NNI 24) कल्याणं करोति द्वारा प्रस्तावित नवीन नेत्र चिकित्सालय का भूमि पूजन कार्ष्णि गुरू शरणानन्द जी महाराज, संत विजय कौशल जी महाराज, श्रीमद् जगद्गुरू पीपाद्वाचार्य बलराम दास देवाचार्य जी महाराज व संस्था के अध्यक्ष स्वामी श्री महेशानन्द सरस्वती जी महाराज के कर कमलों से विधि विधान से भूमि पूजन पुरोहित आचार्य श्री बनवारी लाल गौड़ ने सम्पन्न कराया। इस अवसर पर सन्तों ने भूमि पूजन के पश्चात शिला पूजन कर उन्हें स्थापित भी किया। भूमि पूजन के अवसर पर जनपद व जनपद के बाहर से आये गणमान्य जनों ने भी भूमि पूजन में अपना सहयोग दिया।
इस अवसर पर श्री अनन्त विभूषित गुरूशरणानन्द जी महाराज ने कहा कि देवता हमारे ऊपर अनुग्रह करते है और हमें प्राणी मात्र पर कृपा करनी चाहिए, ऋषि मुनि का ज्ञान के द्वारा अनुगृह होता है। हमको उनका कृतज्ञ होना चाहिए। मनुष्य के जन्म लेते ही उस पर तीन ऋण होते है पितृ ऋण, देव ऋण, ऋषि ऋण देवताओं ने अगर हमें कुछ दिया है, तो हमें भी जनकल्याण में कुछ प्रदान करना चाहिए। हमें सतकर्मों का कार्य करना चाहिए, संतति ऐसी हो जो समाज के लिए भूषण हो सके, समाज के लिए लाभकारी हो, यहाँ सभी सहयोगीजनों को भी समाज के हित में कार्य करना चाहिए। कल्याणं करोति के माध्यम से इतने बडे-बडे कार्य किये जा रहे है। लोगों को जीवन देने का नेत्र ज्योति देने का विशाल कार्य किया जा रहा है।
मंहत कमलनयन दास जी महाराज, अयोध्या ने कहा कि सेवा ही भगवान की सबसे बड़ी पूजा है, सेवा से ही सब कुछ प्राप्त हो सकता है। सेवा ही परमो धर्म है। सभी लोग सेवा के साथ जुड़े तथा इस विशाल सेवा के प्रकल्प को आगे बढ़ाने में तन मन धन से मदद करें।
संत विजय कौशल जी महाराज ने कहा कि कल्याणं करोति ऐसी नेत्र ज्योति देने का कार्य करती है। यह ऐसी दृष्टि देती है जो जीवन के साथ जाती है। सन्तों की संगति से जीवन बदल जाता है अच्छे कार्यों से अपने आपको जोड़ लीजिए। आपको तय करना है कि अच्छे व्यक्ति या अच्छे कार्यो से जुड़ना है या अन्य कहीं जुड़ना है। कल्याणं करोति का अनुष्ठान दूसरों के हितों के लिए तथा दुखों को दूर करने के लिए होगा तथा ज्यादा से लोग इससे लाभान्वित होंगे।
स्वामी श्री गोविन्दानन्द तीर्थ जी महाराज ने कहा कि यह धरा ब्रज की धरा में सर्वश्रेष्ठ धरा मानी जायेगी। यहाँ नेत्र रोगियों की सेवा होगी यदि आपको धनवान होना है, धनवान बने रहना है। तो पात्र ढूढिये कैसा पात्र हो इसका चयन भी आपको ही करना है सद् पात्र का चयन जरूर करें। पात्र अनेक प्रकार के होते है। जबकि यह एक ऐसा पात्र जो मुक्ति का कल्याण करती है। सबसे ऊँचा पात्र कौन सा है जो समाज की सेवा करता है। विशाल नेत्र चिकित्सालय का स्वरूप होने जा रहा है। इसके लिए सभी सन्तों का आर्शीवाद ही हमारी सफलता ध्योतक है। आँखों की ज्योति धुमिल नहीं होनी चाहिए, हम आखों से परमात्मा की बनाई इस दुनिया को अपने रिश्तों को भी जान पाते है। नेत्र में भी रोग आ जाते है। इसको दूर करने का काम कल्याणं करोति करेगी यह आस्पताल जल्द बन कर तैयार होगा।
श्रीमद् जगद्गुरू पीपाद्वाचार्य बलराम दास देवाचार्य जी महाराज ने कहा कि यह हॉस्पीटल जो बनने जा रहा है, इसमें हम कितना योगदान दे सकते है, बाबा ने कहा कि जोड़कर ले कहाँ जाओंगे कितना भी इकठ्ठा कर लो साथ में जाने वाला नहीं है। हम सभी खुले दिल से आगे आकर इस नवीन हॉस्पीटल को बनाने के प्रकल्प को पूरा कराने में सहयोग करें।
माननीय श्री रमेश रतन जी, चेयरमैन, पी.एस.सी, रेलवे बोर्ड मंत्रालय, भारत सरकार ने कहा कि पीड़ित मानवों के लिए लोगों के नेत्रों को ठीक कराने का कार्य कल्याणं करोति की ओर से किया जा रहा है। ब्रज के लोगों को इसका लाभ मिलता रहेगा।
माननीय श्री लक्ष्मी नारायण चौधरी जी (कैबिनेट मंत्री) डेयरी विकास, पशुपालन एवं मत्स्य पालन मंत्री ने कहा कि हमें पीडित मानवता की सेवा के लिए आगे आना चाहिए तथा यह जो नेत्र चिकित्सालय बनकर तैयार हो रहा है। इससे बृजवासियों की सेवा हो सकेगी यहाँ जब सन्तों की कृपा किसी प्रकल्प पर होती है वह जरूर पूर्ण होगा यह ब्रज ही नहीं उत्तर प्रदेश में भी ख्याति प्राप्त करेगा।
श्री रविकान्त गर्ग जी, चेयरमैन, उत्तर प्रदेश व्यापारी कल्याण बोर्ड ने कहा कि कल्याणं करोति जो कुछ भी करती है वह उसके नाम से ही जाना जा सकता है। इस नये हॉस्पीटल से सभी ब्रजवासी व समीपवर्ती सभी जनपदों के लोग लाभ ले सकेगे। सम्पूर्ण समाज के लिए बिना किसी भेदभाव के यहाँ लोगों की सेवा होती है।
संस्था महासचिव सुनील कुमार शर्मा ने सभी दानदाताओं के द्वारा की गई घोषणाओं के विषय में बताया साथही उन्होंने कल्याणं करोति के विषय में जानकारी दी।
संस्थान के अध्यक्ष श्री महेशानन्द सरस्वती जी महाराज ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कल्याणं करोति जो यह संकल्प लेकर आगे बढ़ रही है यह निष्चित रूप से ब्रज के सभी जनपदों के साथ-साथ हरियाणा और राजस्थान, मध्य प्रदेश के जनपदों के भी लोगों को इस विशाल नेत्र चिकित्सालय का लाभ मिल सकेगा।
इस अवसर पर प्रकांड विद्वान श्रीवत्स गोस्वामी, बृज तीर्थ विकास परिषद् के उपाध्यक्ष शैलजाकान्त मिश्र, महन्त राधाकान्त, श्याम सुन्दर बेरीवाला, चेयमैन, श्याम स्टील इण्ड्रस्टीज लि0, कोलकाता, आनन्द अग्रवाल, प्रबन्ध ट्रस्टी, गोविन्दराम गोयल चेरी0 ट्रस्ट, कोलकाता, जयन्ती प्रसाद अग्रवाल, जगदीश चौधरी, गजेन्द्र कुमार शर्मा, चेयरमैन, लक्ष्मी ग्रुप, पुरूषोत्तम लाल, चौ0 दीनानाथ अग्रवाल, ललित कुमार अरोड़ा, चेयरमैन, गिर्राज फाइल्स प्रा0 लि0, वृन्दावन, कल्याण दास अग्रवाल, बृजवासी टंच, नारायण दास अग्रवाल, कुलाधिपति, जीएलए विश्वविद्यालय, मथुरा, श्री अनूप गुप्ता, कृष्ण कुमार खण्डेलवाल, गुलाब सुपारी, शोभाराम शर्मा, चेयमैन, जगदीश लाल भाटिया, अध्यक्ष, श्रीनाथ धमार्थ सेवा सोसाइटी, फरीदाबाद पूर्व सांसद तेजवीर सिंह, पूर्व विधायक प्रदीप माथुर, सूर्यकान्त शर्मा, प्रतिनिधि ऊर्जामंत्री, कारिन्दा सिंह, विधायक गोवर्धन क्षेत्र, पूरन प्रकाश विधायक, गोकुल क्षेत्र, डॉ0 मुकेश आर्यबन्धु, महापौर, नगर निगम, मथुरा, यमुना मिशन के प्रदीप बसंल, एस. के. शर्मा, चेयरमैन, बृजवासी वेलफेयर सोसाइटी, मथुरा, राष्ट्र गौरव, महामंत्री, कल्याणं करोति, लखनऊ, नन्द किशोर शर्मा, चेयरमैन, सेंट आरजे पब्लिक स्कूल, एनएच-91, खुर्जा रोड, बुलंदशहर, श्याम सिंह अहेरिया, पूर्व विधायक, संजय पाठक आरकेडीय पब्लिक स्कूल, मथुरा, कृष्ण कुमार शर्मा मुन्ना भईया, गोवर्धन आदि क्षेत्रों के गणमान्य लोगों के साथ साथ बड़ी संस्या में गणमान्य लोगों उपस्थित रहे।

Advertisement

Related posts

बहराइच में पारम्परिक तरीके से मनाया गया धनतेरस,लोगों ने जमकर की खरीदारी…….

पुलिस उत्पीडन के खिलाफ आई जी से मिला राष्ट्रीय विकलांग पार्टी का प्रतिनिधि मण्डल

एक टिप्पणी छोड़ दो