ब्रेकिंग न्यूज़

श्रावस्ती के बीजेपी विधायक रामफेरन पांडेय की विधायकी पर लटकी तलवार,विधायकी का मामला पहुंचा अदालत में,,,,,,,,,,

श्रावस्ती के बीजेपी विधायक रामफेरन पांडेय की विधायकी पर लटकी तलवार,विधायकी का मामला पहुंचा अदालत में,,,,,,,,,,

लखनऊ :यूपी विधानसभा वहुनव 2022 में श्रावस्ती जिले से दूसरी बार विधायक बने भाजपा विधायक राम फेरन पाण्डेय की विधायकी को लेकर एक मामला अदालत में पहुंच गया है और इस तरह उनकी विधायक की को चैलेंज करते हुए जिले के ही पूर्व सपा के विधायक असलम राईनी ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक वाद दायर कर चुनौती दी है कि जिले की श्रावस्ती विधान सभा क्षेत्र से निर्वाचित भाजपा विधायक राम फेरन पाण्डेय ने अपने नामांकन के दौरान दाखिल किये गये दस्तावेजों में कूट रचित तरीके से साक्ष्य को छुपाते हुये चुनावी नियमों का उल्लंघन किया है अतः ऐसी दशा में उनकी विधायकी शून्य हो जाती है। असलम राईनी ने अपनी याचिका में दावा किया है कि बीजेपी विधायक ने नामांकन के दौरान जो हलफनामा दाखिल किया है वो झूठा है क्योंकि रामफेरन पर दर्जनों आपराधिक मुकदमें है जिनको इन्होंने छुपाते हुये उसका कोई हवाला नही दिया है साथ ही उनपर शैक्षिक योग्यता, इनकम टैक्स, संपत्ति, बैंक लोन, गाड़ी, असलहा को लेकर झूठा हलफनामा दाखिल करने का भी आरोप है।

Advertisement

​​असलम ईरानी ने 2017 के यूपी विधानसभा चुनाव के दौरान भी झूठा हलफनामा दाखिल करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि रामफेरन पर 28 साल से दर्जनों आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। असलम राईनी ने इस याचिका पर हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया है और 30 मई तक विधायक जी से जवाब मांगा गया है। हाईकोर्ट ने सुनवाई के बाद विधायक रामफेरन से 30 मई से पहले उन्हें अपना पक्ष रखने का समय दिया है और उनकी साक्ष्य भी मांगे हैं। विधायक साक्ष्य प्रस्तुत नहीं कर पाने पर उनकी विधायकी तक रद्द की जा सकती है। आपको बता दें कि विधायक रामफेरन पर लगभग 28 साल से कई मामलों में मुकदमे दर्ज हैं। कई बार लकड़ी चोरी के आरोप में उन पर जुर्माना भी लग चुका है और वो जेल भी जा चुके हैं।

*रामफेरन ने संपत्ति दिखाने में भी की गड़बड़ी,,,*

Advertisement

आरोप ये भी है कि भाजपा विधायक ने अपनी बहुत सी संपत्ति छिपाई है। 10 करोड़ की संपत्ति को 5 करोड़ ही दिखाया है। बता दें कि 2022 विधानसभा चुनाव से पहले बसपा के 6 विधायकों के साथ असलम राईनी ने सपा का दामन थामा था,,,,

श्रावस्ती सीट से भाजपा विधायक रामफेरन पांडेय ने 1457 वोटों से जीत हासिल की थी। उन्होंने सपा के असलम राईनी को हराया। अब जाकर राईनी ने याचिका दायर की, जिसे हाईकोर्ट ने संज्ञान भी लिया है,,

Advertisement

Related posts

जिले में चल रहे लॉक डाउन के मद्देनजर लागू हुई धारा 144,,,,,

भाकियू के जिला मुख्य महासचिव बने: राम कृपाल यादव*******

भारत का संविधान दुनिया के सभी देशों से सर्वश्रेष्ठ संविधान है——– डॉ. रुक्मिणी चौधरी